Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

संत पापा फ्राँसिस \ अंजेलुस व संदेश

गरीबों और शरणार्थियों में येसु से मुलाकात

आमदर्शन समारोह के बाद लोगों से मिलते हुए संत पापा फ्राँसिस

20/06/2018 14:32

वाटिकन सिटी, बुधवार 20 जून 2018 (रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने बुधवार 20 जून विश्व शरणार्थी दिवस के अवसर पर दो ट्वीट प्रेषित कर विश्व के सभी लोगों को शरणार्थियों और जरुरतमंद पड़ोसियों की मदद करने की प्रेरणा दी।

संदेश में उन्होंने लिखा, “हम गरीब, परित्यक्त और शरणार्थियों में येसु से मुलाकात करते हैं। अपने जरूरत मंद पड़ोसियों का स्वागत करने और मदद करने से कभी पीछे न हटें।”

दूसरे संदेश में संत पापा ने लिखा, “एक व्यक्ति की गरिमा उनके नागरिक होने, प्रवासी या शरणार्थी होने पर निर्भर नहीं करती है। युद्ध और गरीबी से भागने वाले किसी के जीवन को बचाना ही मानवता का कार्य है।”  

आशा, विश्वास और भाईचारा : ये वे शब्द हैं जिसे संत पापा फ्राँसिस ने परमधर्माध्यक्षीय कार्यकाल की  शुरुआत से ही अक्सर शरणार्थियों के लिए दोहराया है। विश्व शरणार्थी दिवस दुनिया में 66 मिलियन से अधिक लोगों को न भूलने के लए मनाया जाता है, जिन्हें युद्ध, हिंसा और दुःख से बचने के लिए अपने देश छोड़ने के लिए मजबूर किया जाता है।

स्वागत, रक्षा, बढ़ावा और संघटित करना

प्रवासियों और शरणार्थियों के विश्व दिवस 2018 के संदेश में संत पापा फ्राँसिस ने कहा कि "अजनबी जो हमारे दरवाजे पर दस्तक देते हैं उनके माध्यम से हम येसु के साथ मुलाकात करते हैं।" संत पापा ने संदेश में शरणार्थियों का स्वागत करने, परिवार के पुनर्मिलन को प्रोत्साहित करने, प्रवासियों और शरणार्थियों के अधिकारों और गरिमा की रक्षा के लिए कार्यों के संरक्षण और  समाज में शरणार्थियों के एकीकरण की आवश्यकता पर बल दिया।  

विदित हो कि यह दिवस प्रत्येक वर्ष 20 जून को उन लोगों के साहस, शक्ति और संकल्प के प्रति सम्मान व्यक्त करने के लिए मनाया जाता है, जिन्हें प्रताड़ना, संघर्ष और हिंसा की चुनौतियों के कारण अपना देश छोड़कर बाहर भागने को मजबूर होना पड़ता है। शरणार्थियों की दुर्दशा की ओर ध्यान आकर्षित करने और शरणार्थी समस्याओं को हल करने के लिए ही यह दिवस मनाया जाता है।

दिसंबर 2000 में संयुक्त राष्ट्र ने अफ्रीका शरणार्थी दिवस यानी 20 जून को प्रतिवर्ष विश्व शरणार्थी दिवस मनाने का निर्णय लिया। वर्ष 2001 से प्रतिवर्ष संयुक्त राष्ट्र द्वारा 20 जून को विश्व शरणार्थी दिवस मनाया जा रहा है। संयुक्त राष्ट्र की संस्था यू.एन.एच.सी.आर. शरणार्थी लोगों की सहायता करती है।


(Margaret Sumita Minj)

20/06/2018 14:32