Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

वाटिकन \ घटनायें

वाटिकन द्वारा पान-अमाज़ोनिया सिनॉड का प्रारंभिक दस्तावेज प्रकाशित

ब्राजील पान अमाजोनिया - RV

09/06/2018 15:13

वाटिकन सिटी, शनिवार 9 जून 2018 (वीआर,रेई) : वाटिकन प्रेस कार्यालय ने शक्रवार 8 जून को प्रेस कॉनफ्रेंस में पान-अमाज़ोनिया धर्मसभा का प्रारंभिक दस्तावेज प्रकाशित किया। कॉनफ्रेंस में कहा गया कि आने वाले अक्टूबर 2019 में अमेज़ॅन बेसिन में धर्माध्यक्षों की धर्मसभा की तैयारी जोर शोर से हो रही है। धर्मसभा का विषय है : "कलीसिया और एक समग्र पारिस्थितिकी के लिए नये मार्ग"। "अमेज़ोनिया में रहने वाले सभी समुदायों और आदिवासियों को सुनना विश्वव्यापी कलीसिया के लिए महत्वपूर्ण महत्व है।"

दस्तावेज के तीन भाग हैं

प्रथम भाग  अमाजोनिया कलीसिया की पहचान और उनकी परेशानियों को देखना और समझने की कोशिश करना और एक अमाज़ॅनियन चेहरे वाली एक कलीसिया के रुप में पारिस्थितिकीय रूपांतरण की दिशा की ओर आगे बढ़ने हेतु एक निमंत्रण है। यह उन क्षेत्र के धर्माध्यक्षों के लिए सिनॉड से पहले अपने पुरोहितों और पारिस्थितिक चिंताओं को साझा करने के लिए प्रश्नावली भी प्रदान करता है।

कचड़े की संस्कृति

 दस्तावेज़ के अनुसार अमाज़ोन वर्षावन "हमारे ग्रह का फेफड़ा और दुनिया में सबसे बड़ी जैव विविधता के क्षेत्रों में से एक है।" इस क्षेत्र को, "लंबे समय तक मानव हस्तक्षेप" और "कचड़े की संस्कृति "के कारण "गहरा संकट" का सामना करना पड़ा है ।

"अमाज़ोन समृद्ध जैव विविधता वाला एक क्षेत्र है; यह बहु-जातीय, बहु-सांस्कृतिक और बहु-धार्मिक क्षेत्र है; यह सभी मानवता का दर्पण है, जहाँ जीवन की रक्षा में, सभी मनुष्यों, राष्ट्रों और कलीसियाओं द्वारा संरचनात्मक और व्यक्तिगत परिवर्तन की आवश्यकता है। "

अमाज़ोनिया पर ध्यान केंद्रित करके, सिनॉड दुनिया के अन्य बायोम, जैसे कांगो बेसिन, मेसोअमेरिकन जैविक गलियारे और एशिया प्रशांत क्षेत्र के उष्णकटिबंधीय जंगलों के लिए एक पुल बनाने की उम्मीद करता है।

शोषित लोग

दस्तावेज़ क्षेत्र की सामाजिक-सांस्कृतिक विविधता, विशेष रूप से आदिवासी आबादी के "विशाल आर्थिक हितों" के प्रभाव पर भी चिंतन करता है।

 दस्तावेज़ कहता है कि अंधाधुंध पेड़ों की कटाई, जल प्रदूषण, और नशीली दवाओं की तस्करी ने स्थानीय लोगों के अस्तित्व को खतरे में डाल दिया है और बड़ी संख्या में वे शहरी क्षेत्रों में प्रवासन कर रहे हैं जहाँ उनका अक्सर शोषण होता है।

अमाज़ोनिया में कृषि, खनन और पेड़ों की कटाई गतिविधियों की अत्यधिक वृद्धि ने न केवल क्षेत्र के वर्षावन और इसके जल की पारिस्थितिक समृद्धि को नुकसान पहुंचाया है, बल्कि इसके सामाजिक और सांस्कृतिक संपदा को भी कम किया है। इसने अमाज़ोन बेसिन पर 'गैर-समावेशी' शहरों के विकास को मजबूर कर दिया है।

कलीसिया का अमेज़ॅन चेहरा

दस्तावेज कहता है कि  काथालिक कलीसिया को, प्रत्येक क्षेत्र की वास्तविकताओं के अनुसार अपनी पहचान को गहरा बनाने और अपने लोगों के ज्ञान  और अनुभव को सुनकर अपनी आध्यात्मिकता में वृद्धि करना है।

सिनॉड अमेज़ॅन क्षेत्र की कई संस्कृतियों के साथ मिलकर, "कलीसिया के अमेज़ॅनियन चेहरे" के विकास के नए तरीकों की तलाश करेगा। कलीसिया उम्मीद करती है, "इस क्षेत्र में अन्याय की स्थितियों के लिए खिलाफ कार्य कर सकती है, जैसे खनन उद्योगों के नवसंस्कृतिवाद, आधारभूत संरचना परियोजनाएं जो जैव विविधता को नुकसान पहुंचाती हैं, और सांस्कृतिक और आर्थिक मॉडल को विदेशी लोगों के लिए लागू कर करती है।"

"इस प्रकार, स्थानीय वास्तविकताओं और क्षेत्र के अनुभवात्मक सूक्ष्म संरचनाओं की विविधता पर ध्यान केंद्रित करके, कलीसिया और मीडिया द्वारा प्रचारित एकजुट तर्क और एक आर्थिक मॉडल को दृढ़ता से मजबूत करना जो अक्सर अमेज़ॅनियन लोग या उनके क्षेत्र का सम्मान करने से इनकार करती है।"


(Margaret Sumita Minj)

09/06/2018 15:13