Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ एशिया की कलीसिया

रमजान में मुसलमानों के साथ काथलिकों की सहभागिता

इन्डोनेशिया के मुस्लिम रोजा तोड़ते हुए - AP

09/06/2018 15:06

जकार्ता, शनिवार 9 जून 2018 (एशिया न्यूज) : इंडोनेशिया में मुस्लिम पवित्र महीने रमजान के दौरान, कई काथलिक पल्लियाँ संवाद और बहुलवाद को बढ़ावा देने वाली पहलों में शामिल हैं।

पुरवाकरो (सेंट्रल जावा) धर्मप्रांत के सेक्रेड हार्ट पल्ली ने कल शाम सैकड़ों मुसलमानों को पल्ली भवन में एक इफ्तर भोजन साझा करने के लिए आमंत्रित किया। पल्ली पुरोहित फरी योहान्स सूरतमान की अध्यक्षता में शाम का भोजन परोसा गया और इस्लामी उपवास तोड़ा गया।

फादर ने एशिया न्यूज को बताया कि "लगभग 300 लोग हमारी पहल में शरीक होने आए," जिसमें "238 स्वास्थ्य कार्यकर्ता और 46 कम वेतन वाले, जैसे रिक्शा चालक, पार्किंग परिचारक और सुरक्षा गार्ड शामिल थे।"

फादर सूरतमान ने गौर किया कि स्थानीय सरकारी अधिकारी और सशस्त्र बलों के सदस्य भी इस कार्यक्रम में उपस्थित थे, साथ ही साथ "अंतरधार्मिक मंच (एफकेयूबी) और स्थानीय उलेमा परिषद (एमयूआई) के कुछ प्रमुख सज्जन" और  दो सबसे बड़े मुस्लिम संगठनों के प्रतिनिधि: नहदलातुल उलामा और मोहम्मदियाह भी उपस्थित थे।"

उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले उनकी पल्ली ने करीब दो सौ बच्चों के लिए इफ्तार(भोजन) की व्यवस्था की थी।

पुरवाकरतो के सेवानिवृत  धर्माध्यक्ष जूलियस केमा सुनारका ने, तेगल में काथलिक समुदाय के पहल की प्रशंसा की। धर्माध्यक्ष ने सोशल मीडिया पर एक संदेश में, पंकसिला राज्य के दार्शनिक और राजनीतिक मंच की रक्षा के लिए राष्ट्रपति जोको विडोडो की महत्वाकांक्षा साझा करने के लिए सेक्रेड हार्ट पल्ली को धन्यवाद दिया।"

धर्माध्यक्ष ने इस क्षेत्र में अन्य पुरोहितों को इस तरह की गतिविधियों का संचालन करने के लिए प्रोत्साहित किया। माता मरिया धर्मसमाज की सुपीरियर सिस्टर मारिया मोनिका एकावती ने नोट किया कि इस तरह के कार्य "वर्तमान सामाजिक समस्याओं के लिए एक उत्कृष्ट प्रतिक्रिया हैं और देश के राष्ट्रीय मूल्यों को संरक्षित करने के लिए उपयोगी हैं।"


(Margaret Sumita Minj)

09/06/2018 15:06