Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

संत पापा फ्राँसिस \ मुलाक़ात

बौद्धों, हिंदुओं, जैनों और सिखों के प्रतिनिधिमंडल को संत पापा फ्राँसिस का अभिवादन

बौद्धों, हिंदुओं, जैनों और सिखों के प्रतिनिधिमंडल का अभिवादन करते हुए संत पापा फ्राँसिस

16/05/2018 15:49

वाटिकन सिटी, बुधवार 16 मई 20 वाटिकन सिटी, बुधवार 16 मई 2018 (रेई) : 18 (रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने बुधवार 16 मई को अपने साप्ताहिक बुधवारीय आमदर्शन समारोह के पहले अपने प्रेरितिक निवास संत मार्था में बौद्धों, हिंदुओं, जैनों और सिखों के 27 प्रतिनिधियों से मुलाकात की जो "एक जटिल युग में धर्म और लोगो - संवाद और सहयोग" सम्मेलन में भाग लेने रोम आये हुए हैं।

वाटिकन में उनका स्वागत करते हुए कहा,“ मैं आप सभी का अभिवादन करता हूँ जिन्होंने कल रोम में आयोजित "एक जटिल युग में धर्म और लोगो - संवाद और सहयोग" सम्मेलन में भाग लिया। मैं आपके उन सभी प्रयासों की सराहना करता हूँ जिन्होंने, ख्रीस्तीयों, हिंदूओं, बौद्धों, जैनों और सिखों को एक साथ लाने की इस पहल को संभव बनाया।”

संत पापा ने संवाद और आपसी सहयोग की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा,“वर्तमान समय में संवाद और सहयोग बहुत आवश्यक है, जैसा कि हम देखते हैं आज छोटे और बड़े पैमाने पर हिंसा के साथ जटिल और अभूतपूर्व कारकों ने तनाव और संघर्ष में वृद्धि की है। जब धार्मिक नेता सक्रिय रूप से उपयोगी बातचीत का उदाहरण देते हुए और जीवन की सेवा, मानव गरिमा और सृजन की देखभाल में प्रभावी ढंग से मिलकर मुलाकात की संस्कृति को बढ़ावा देते हैं तो इसके लिए हमें ईश्वर को धन्यवाद देना चाहिए।”

संत पापा ने उनके प्रति आभार प्रकट की और उन्हें शुभकामनायें देते हुए कहा,“ आपके समुदायों की अपनी धार्मिक परंपराओं के अनुसार हमारी दुनिया में भलाई को बढ़ावा देने के लिए और एक साथ आने के द्वारा आपने जो कार्य शुरु किया है उसके लिए मैं आपको सहृदय धन्यवाद देता हूँ और आपके समुदाय पर दिव्य आशीर्वाद की कामना करता हूँ।” इतना कहने का बाद संत पापा ने उन्हें विदा किया ।


(Margaret Sumita Minj)

16/05/2018 15:49