Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

विश्व की घटनायें \ एशिया

दोनों पैरों से अपंग चीनी पर्वतारोही ने माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई की

नेपाल की ओर से दिखता माउंट एवरेस्ट - AP

15/05/2018 15:08

काठमांडू, मंगलवार 15 मई 2018 (एशिया न्यूज) : दोनों पैरों से अपंग एक चीनी पर्वतारोही ज़िया बोयू 14 मई सोमवार सुबह माउंट एवरेस्ट का चढ़ाई पूरी की। नेपाल की ओर से पैरों के बिना दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर चढ़ने वाले वे पहले व्यक्ति हैं।

संपर्क अधिकारी ज्ञानेंद्र शेरस्थ के अनुसार, ज़िया 14 मई सोमवार सुबह 8:40 बजे माउंट एवरेस्ट के ऊपर खड़े थे।

ज्ञानेंद्र ने कहा कि ज़िया नेपाल की ओर से माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई करने वाला पहला दोनों पैरों से अपंग व्यक्ति है, परंतु माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाले वे दूसरे दोनों पैरों से अपंग व्यक्ति हैं।

न्यूजीलैंड के मार्क जोसेफ चीन की ओर से दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर पहुँचने वाले पहले दोनों पैरों से अपंग व्यक्ति है। उन्होंने 15 मई, 2006 को 40 दिनों की चढ़ाई के बाद इस उपलब्धि को हासिल किया था।

ज़िया ने 1975 में माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई करने के अपने पहले प्रयास में अपने दोनों को पैरों को खो दिया था, अपने पांचवें प्रयास में माउंट एवरेस्ट के ऊपर आज सुबह खड़े हो गए। उसके साथ तीन अन्य शेरपा भी थे।

नेपाल में पैदा हुए एक कनाडियन सुदर्शन गौतम, दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत पर चढ़ने वाले पहले दोनों हाथों से अपंग हैं। उन्होंने 20 मई, 2013 को एवरेस्ट की चढ़ाई पूरी की।


(Margaret Sumita Minj)

15/05/2018 15:08