Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

विश्व की घटनायें \ विश्व

माली में जिहादियों द्वारा 40 की हत्या का संदेह

फ्राँस के सैनिक उत्तरी माली के मावो क्षेत्र में तैनात - AP

30/04/2018 15:10

नीजेर(माली), सोमवार 30 अप्रैल 2018 (वीआर, रेई) : संदिग्ध जिहादियों ने नीजेर और माली की पूर्वोत्तर सीमा पर दो दिनों में तुरेगों जाति के 40 लोगों की हत्या कर दी है।

तुरेग जनजाति के एक नेता ने दावा किया कि जिहादी समूहों ने प्रतिशोध में सामूहिक हत्या की क्योंकि तुरेग जनजाति के लोग देश की सेना को मजबूत बना रहे हैं।

नेता ने बताया कि जिहादियों ने शुक्रवार को 30 लोगों को मार डाला।  एक दिन बाद एक और हमले में बंदूकधारियों ने मेनका जिले में 12 लोगों को मारा, जहां तथाकथित इस्लामी राज्य के सहारन सहयोगियों को अड्डा है।

 ये आतंकवादी समूह जातीय समूहों के बीच तनाव का विवाद करके शोषण कर रहे हैं- जैसे तुरेग और फुल्लानी गड़ेरिये, जो रेगिस्तान में बहुमूल्य जल श्रोतों के लिए झगड़ा करते हैं।

संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी दी कि माली में असुरक्षा तेजी से बढ़ रही है' और जिहादी समूहों ने अफ्रीका के साहेल क्षेत्र में सुरक्षा के लिए एक बड़ा खतरा पैदा किया है। संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि अफ्रीका के साहेल क्षेत्र में व्यापक खाद्य असुरक्षा और चरम गरीबी से सुरक्षा अनिश्चित स्थिति को और भी बढ़ा रहा है।

सन्  2013 में, फ्रांस ने माली से जिहादियों को बाहर निकालने में मदद करने के लिए अपने सैनिक भेजे थे।

 


(Margaret Sumita Minj)

30/04/2018 15:10