Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

संत पापा फ्राँसिस \ अंजेलुस व संदेश

निकारागुआ में संघर्ष समाप्त करने हेतु संत पापा की अपील

निकारागुआ में विरोध प्रदर्शन करते हुए लोग - AP

23/04/2018 16:40

वाटिकन सिटी, सोमवार 23 अप्रैल 2018 (वीआर,रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने निकारागुआ की स्थिति के लिए अपनी चिंता व्यक्त की, जहां सुरक्षा बलों ने सरकार विरोधी प्रदर्शनों को तोड़ने का प्रयास किया था, जिसमें कम से कम 25 लोग मारे गए।

रविवार 22 अप्रैल को संत पापा फ्राँसिस ने संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण में हजारों तीर्थयात्रियों और विश्वासियों के साथ स्वर्ग की रानी प्रार्थना का पाठ करने के पश्चात कहा कि वे अपनी प्रार्थना में निकारागुआ के लोगों के साथ हैं और निकारागुआ के धर्माध्यक्षों की आवाज में अपनी आवाज मिलाते हैं जिन्होंने हिंसा को खत्म करने की मांग की है।

निकारागुआ के राष्ट्रपति डेनियल ओटेर्गा और सरकार द्वारा पेंशन प्रणाली में प्रस्तावित बदलाव के खिलाफ लोग हिंसक प्रदर्शन कर रहे हैं। इन बदलावों के तहत सरकार कुछ पेंशनों पर 5 प्रतिशत टैक्स लगा रही है, जिसके चलते यहां के नागरिकों में जबर्दस्त गुस्सा है। निकारागुआ में सरकार विरोधी हिंसक प्रदर्शनों के दौरान फेसबुक पर लाइव रिपोर्टिंग कर एक पत्रकार की गोली लगने से मौत हो गई। इसके साथ ही निकारगुआ में सरकार विरोधी प्रदर्शन के दौरान अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है। प्रदर्शन के चलते सरकार ने कई इलाकों में सेना तैनात कर दी है।

संत पापा फ्राँसिस ने हिंसा के अंत के लिए अपील करते हुए कहा कि जिम्मेदारी की भावना के साथ स्थिति को शांतिपूर्वक हल किया जा सकता है। धर्माध्यक्षीय सम्मेलन का कहना है कि एकतरफा निर्णय हमेशा सामाजिक अस्थिरता को लाता है। निर्णय पर पुनःविचारकर सुधारना हमेशा मानवता का संकेत है।


(Margaret Sumita Minj)

23/04/2018 16:40