Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ विश्व की कलीसिया

सन्त पापा फ्राँसिस ने की एमाज़ोन पर धर्माध्यक्षीय धर्मसभा की बैठक की अध्यक्षता

पेरु के पुएरतो मालदोनादो में सन्त पापा फ्राँसिस, तस्वीरः 19.01.2018 - AFP

13/04/2018 11:43

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 13 अप्रैल 2018 (रेई,वाटिकन रेडियो): एमाज़ोन क्षेत्र की धर्माध्यक्षीय धर्मसभा के आयोजन हेतु गुरुवार को वाटिकन में धर्माध्यक्षों की एक विशिष्ट बैठक हुई जिसकी अध्यक्षता सन्त पापा फ्राँसिस ने की।    

एमाज़ोन क्षेत्र के 18 धर्माध्यक्षों सहित इस क्षेत्र के 13 विशेषज्ञों ने गुरुवार, 12 अप्रैल को सम्पन्न  बैठक में भाग लिया।   

धर्माध्यक्षीय धर्मसभा के महासचिव कार्डिनल लोरेन्सो बालदिसेर्री ने बैठक में एमाज़ोन क्षेत्र को परिभाषित करते हुए इसे अपार धन सम्पत्ति एवं प्राकृतिक संसाधनों से सम्पन्न बागान की संज्ञा प्रदान की। उन्होंने कहा कि एमाज़ोन क्षेत्र इतिहास और संस्कृति की धनी तथा अपनी अचूक विशेषताओं के लिये पहचानी जानेवाली जनजातियों की मातृभूमि है।   

कार्डिनल महोदय ने इस बात पर दुख व्यक्त किया कि एमाज़ोन पर असीमित महत्वाकांक्षाएँ रखनेवाली शक्तियाँ हावी हो रही हैं जो जनजातियों को उनके मूलभूत अधिकारों से वंचित कर रही हैं।

वाटिकन में गुरुवार को सम्पन्न बैठक में एमाज़ोन स्थ्ति तूयूका जनजाति के काथलिक पुरोहित फादर जस्टीन रेज़ेन्दे भी शामिल थे जिन्होंने पहली बार सन्त पापा फ्राँसिस के समक्ष उपस्थित होने की खुशी ज़ाहिर की तथा उनके लोगों के बीच कलीसिया की उपस्थिति के लिये सन्त पापा के प्रति हार्दिक धन्यवाद ज्ञापित किया।     

फादर जस्टीन ने कहा, “मैं यहां अमेज़ोनियों की ओर से विशेषकर जनजातियों की तरफ से बोल रहा हूं। इस बैठक में मैं एकमात्र जनजाति का व्यक्ति हूँ और कृतज्ञतापूर्वक कहता हूँ कि कलीसिया अपने दिल और दिमाग के साथ हम पर दृष्टि लगाये हुए है। सार्वभौमिक कलीसिया के संरक्षण में एमाज़ोन के लोग अपनी समस्याओं का समाधान ढूँढ़ने हेतु महत्वपूर्ण योगदान प्राप्त करने की आशा करते हैं।”


(Juliet Genevive Christopher)

13/04/2018 11:43