Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ विश्व की कलीसिया

पवित्रता में कैसे बढ़ें?

माता मरियम की प्रतिमा का स्पर्श करते संत पापा - REUTERS

10/04/2018 15:45

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 10 अप्रैल 2018 (रेई)˸ संत पापा फ्राँसिस ने सोमवार 9 अप्रैल के ट्वीट संदेश में विभिन्न लोगों को सम्बोधित कर पवित्रता में बढ़ने का प्रोत्साहन दिया।

उन्होंने माता-पिता एवं दादा-दादी को सम्बोधित कर कहा, "क्या आप माता–पिता अथवा दादा–दादी हैं? बच्चों को धीरज पूर्वक येसु का अनुसरण करने की शिक्षा देने के द्वारा पवित्र बनें।"     

उन्होंने अधिकारियों को सम्बोधित कर कहा, "क्या आप अधिकारी के पद पर हैं? सार्वजनिक भलाई के लिए काम करने एवं स्वार्थ का त्याग करने के द्वारा पवित्र बनें।"

संत पापा ने 10 अप्रैल को विश्वासियों को सिद्धि के रास्ते पर आगे बढ़ने का प्रोत्साहन देते हुए ट्वीट संदेश में लिखा, "हृदय के गरीब बनना, दीनता एवं विनम्रता से पेश आना, दूसरों के दुःख में दुःखी होना, धार्मिकता के लिए भूखे एवं प्यासे रहना, करुणा की दृष्टि से देखना एवं कार्य करना, ही पवित्रता है।"

उन्होंने एक अन्य द्वीट में लिखा, "हृदय को उन सभी चीजों से मुक्त रखना जो उसे प्रेम से वंचित कर देते हैं, हमारे आस-पास शांति बोना, सुसमाचार के रास्ते को प्रतिदिन अपनाना, भले ही यह हमारे लिए समस्या का कारण बन जाए, यही पवित्रता है।"


(Usha Tirkey)

10/04/2018 15:45