Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ एशिया की कलीसिया

धर्माध्यक्ष गुओ का अपहरण पुलिस द्वारा

प्रतीकात्मक तस्वीर - REUTERS

27/03/2018 15:48

मीनदोंग, मंगलवार, 27 मार्च 2018 (एशियान्यूज़)˸ मीनदोंग के धर्माध्यक्ष विन्सेंट गुओ सिजिंग का अपहरण पुलिस द्वारा पिछली रात को हुई।

59 वर्षीय धर्माध्यक्ष को वाटिकन की ओर से पहचान प्राप्त है किन्तु सरकार की ओर से मंजूरी प्राप्त नहीं है। हाल के महीनों में वाटिकन राजनयिक महाधर्माध्यक्ष क्लौदियो मारिया चेल्ली ने कलीसिया से बहिष्कृत धर्माध्यक्ष विन्सेंट ज़ान सिलू जिन्हें चीनी सरकार की मंजूरी प्राप्त हैं, धर्मप्रांत के पद का त्याग करने का आदेश दिया था।  उनके स्थान पर मोनसिन्योर गुओ को सहायक धर्माध्यक्ष का पद प्रदान किया गया था। मोनसिन्योर गुओ की पदावनति एवं शांत्यू के मोनसिन्योर जुवांग के इस्तीफे को चीनी सरकार एवं वाटिकन के बीच एक ऐतिहासिक समझौते के रूप में देखा जा रहा था।

26 मार्च को स्थानीय समयानुसार दोपहर 3.00 बजे मोनसिन्योर गुओ को धार्मिक मामलों में कार्यालय बुलाया गया था जहाँ उन्होंने कम से कम दो घंटों तक अधिकारियों से मुलाकात की। मुलाकात में हुई बातचीत के बारे कोई जानकारी नहीं है। मोनसिन्योर गुओ संध्या 7.00 बजे धर्माध्यक्षीय आवास लौटे तथा अपना समान तैयार किया, मानो कि वे कहीं जाने वाले हों, उसके बाद रात करीब 10.00 बजे उन्हें ले लिए गया।

पिछले साल पास्का अवकाश के ठीक पहले वे पुलिस हिरासत से गायब हो गये थे किन्तु 20 दिनों बाद ही पुनः प्रकट हुए।

कुछ विश्वासियों के अनुसार धर्माध्यक्ष का अपहरण तब किया गया था जब उन्होंने अवैध धर्माध्यक्ष ज्हान सिलू के साथ पास्का अवकाश में ख्रीस्तयाग अर्पित करने से इंकार किया था।  

ज्हान सिलू उन सात अवैध एवं कलीसिया से बहिष्कृत धर्माध्यक्षों मे से एक हैं जो संत पापा से पहचान का इंतजार कर रहे हैं।


(Usha Tirkey)

27/03/2018 15:48