Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ भारत की कलीसिया

गोवा में धर्मनिरपेक्षता, शांतिपूर्ण जीवन को बढ़ावा देने हेतु वार्ता

रोम में अंतरधार्मिक वार्ता

24/03/2018 13:09

मारगाव, शनिवार 24 मार्च 2018 (मैटर्स इंडिया) : भारतीय काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन धर्मनिरपेक्षता और सामंजस्यपूर्ण जीवन को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न परंपराओं और धर्मों के नेताओं को एक साथ लाने के लिए ‘पिलार धर्मसंघ’ के साथ सहयोग करेगा।

यह कार्यक्रम 5 अप्रैल को मारगाव के वाणिज्यिक रवींद्र भवन में होगा। जिसका विषय “सामाजिक सामंजस्य एवं वार्ता पर सामुदायिक कार्य” और "भारतीय युवाओं की आकांक्षायें" है।

इस सभा के मुख्य अतिथि गोवा और दामन के महाधर्माध्यक्ष फिलिप नेरी फेर्राओ हैं। इस सभा को भारतीय काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के महासचिव धर्माध्यक्ष थेओदोर मस्करेन्हास, पिलार धर्मसंघ के जेनरल फादर सेबास्टीन मस्करेन्हास और एंजल रीजन धर्मसंघ के रीजिनल सुपीरियर फादर अलारिको कारभाल्लो भी संबोधित करेंगे।

सभा को भारत सर्व धर्म संसद के अध्यक्ष सुशील गोस्वामी महाराज, बांगला साहिब गुरुद्वारा के अध्यक्ष  परमजीत सिंह चंदोक, भारतीय इमाम परिषद के अध्यक्ष इमाम उमर अहमद इलसासी,  महावीर जैन मिशन के अध्यक्ष विवेक मुनी और महाबोधी अंतर्राष्ट्रीय ध्यान केंद्र, लद्दाख के संस्थापक बिककु संघसेना भी संबोधित कर रहे हैं।

इस सभा में सभी का स्वागत है। देश में बढ़ती असहिष्णुता की पृष्ठभूमि में इस सभा को आयोजित किया जा रहा है। देश का संसदीय लोकतंत्र खतरे में है, जबकि अन्य मुद्दों की मेजबानी भारत के सहिष्णु और धर्मनिरपेक्ष चरित्र को प्रभावित करती है जो अपनी मजबूत अर्थव्यवस्था का आधार बनती है।


(Margaret Sumita Minj)

24/03/2018 13:09