Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ एशिया की कलीसिया

बंगाल के आदिवासी क्षेत्र में नई पल्ली की स्थापना

प्रतीकात्मक तस्वीर - AFP

06/02/2018 16:59

बंगलादेश, मंगलवार, 6 फरवरी 2018 (रेई): बंगलादेश के राजशाही धर्मप्रांत के खोंजानपुर गाँव में काथलिकों के लिए एक नई पल्ली का उद्घाटन किया गया।

बंगलादेश जो एक मुस्लिम बहुत राष्ट्र है, गिरजाघर के उद्घाटन समारोह में सैकड़ों विश्वासियों ने भाग लिया।

नये गिरजाघर के पल्ली पुरोहित सलेशियन फादर पौल जो एक पोलिश मिशनरी हैं उन्होंने एशियान्यूज़ को बतलाया कि "उस स्थान पर जहाँ कुछ बड़ी जगह थी हमने एक नया गिरजाघर, स्कूल घर एवं युवा केंद्र का निर्माण किया है। हमारी सेवा से हज़ारों लोगों को फायदा होगा।" उद्घाटन समारोह के मुख्य अनुष्ठाता राजशाही के धर्माध्यक्ष जेरवास रोजारियो ने नयी पल्ली के उद्घाटन पर खुशी व्यक्त की तथा कहा कि हमारा धर्मप्रांत बढ़ रहा है और आशा है कि भविष्य में दूसरी पल्लियों की भी स्थापना होगी।

धर्माध्यक्ष रोजारियो के अनुसार नई कलीसिया ईश्वर के संदेश का प्रचार करने का अवसर प्रदान करेगा। उनकी आशा है कि इसके द्वारा भविष्य में कई गैरख्रीस्तीय भी येसु ख्रीस्त को स्वीकार करेंगे। पल्ली पुरोहित ने जानकारी दी कि यह आदिवासियों का क्षेत्र है जहाँ ख्रीस्त की शिक्षा का प्रचार किया जाना है। नये स्कूल का उद्घाटन 1 जनवरी को किया गया था जहाँ पल्ली पुरोहित ने कहा था कि यह सभी के लिए है क्योंकि हम सभी धर्मों के लोगों के लिए कार्य करते हैं। हमारे कार्यों द्वारा हम ख्रीस्त के मूल्यों का अभ्यास करते हैं।

स्थानीय काथलिकों ने नये गिरजाघर को सहर्ष स्वीकार किया। उनमें से एक हैं बाबू राम जो एक संथाली आदिवासी हैं और चार सालों से एक प्रचारक का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा, "हमने ख्रीस्तयाग के दौरान हमारे धर्माध्यक्ष एवं पुरोहित के वचनों को सुना है। हम ईश्वर से धन्य महसूस कर रहे हैं। हम पुरोहितों से अधिक गहरे आध्यात्मिक देखभाल की आशा कर रहे हैं।" 

बंगलादेश में जहाँ मुसलमानों की संख्या 90 प्रतिशत है ख्रीस्तीयों की आबादी मात्र 0.3 फीसदी ही है। ख्रीस्तीयों में अधिकतर लोग आदिवासी हैं।


(Usha Tirkey)

06/02/2018 16:59