Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

विश्व की घटनायें \ विश्व

मानवीय गलियारा : शरणार्थियों का एक और समूह रोम पहुँचा

रोम के फ्यूमिचिनो हवाई अड्डे पर सीरिया के शरणार्थियों के एक समूह का स्वागत - ANSA

31/01/2018 16:02

रोम, बुधवार 31 जनवरी 2018 (वीआर,रेई) : मानवतावादी गलियारा कार्यक्रम के तहत मंगलवार 30 जनवरी को रोम के फ्यूमिचिनो हवाई अड्डे पर सीरिया के शरणार्थियों के एक समूह का स्वागत किया गया। यह पहल संत इजीदियो समुदाय द्वारा प्रोत्साहित की जा रही है और इटली के विदेश मामलों के मंत्रालय और आंतरिक मंत्रालय द्वारा सहायता प्रदान की जा रही है।

 मंगलवार की सुबह इटली के संत इजीदियो समुदाय के अध्यक्ष मार्को इंपालिआज्जो, इटली के इवांजेलिकल कलीसियाओं के संघ के अध्यक्ष लूका मारिया नेग्रो और इटली के विदेशी मामलों के अधिकारी मारियो गियर ने मंगलवार की सुबह सीरिया के शरणार्थियों का स्वागत किया।

मानवतावादी गलियारों की पहल, कमजोर प्रवासियों के लिए एक स्वागत कार्यक्रम, इटली में दो साल पहले शुरू किया गया था।

यह पहल उन लोगों के लिए की गई थी जो विभिन्न कारणों से अपने देशों को छोड़ खतरनाक यात्रा करते और प्रायः भूमध्यसागरीय समुद्र में मर जाते है।

किफाह जिसने अपनी बहन नवराज और माँ सल्वा के साथ मंगलवार को लेबनॉन होते हुए रोम की  हवाई यात्रा की, वाटिकन रेडियो की संवाददाता फ्राँसिसका को अपने देश सीरिया को छोड़ने के बारे में बताया कि वह और उसके परिवार को दमिस्क में संघर्ष के कारण देश छोड़ना पड़ा। बहन नवराज ने कहा, "आज सीरिया में कोई जगह नहीं है जो आतंकवाद से दूर है, आप जानते हैं कि यह आतंकवाद और हिंसा से घिरा है।"  

किफाह ने कहा कि उन्होंने लेबनान में संत ईजीदियो समुदाय के बारे में सुना और उनके साथ संपर्क में आये। नवराज ने कहा, "लेबनान में रहना अरामियों के लिए बहुत कठिन है; बहुत सारी समस्याएं और कठिन परिस्थितियां हैं।"

किफाह ने कहा कि जो लोग लेबनान से भाग गए हैं और रोम के फ्यूमिचिनो में जिन लोगों को स्वागत किया गया है, वे "आतंकवाद, हिंसा के शिकार और सीरियाई संघर्ष के शिकार हैं।"


(Margaret Sumita Minj)

31/01/2018 16:02