Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ विश्व की कलीसिया

शांति के बीज को पोषित करें ताकि वह बढ़ सके

संत पापा फ्राँसिस - AP

02/01/2018 15:12

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 2 जनवरी 2018 (रेई): हम ख्रीस्त जयन्ती काल में हैं जब कलीसिया ईश्वर के शरीरधारण के रहस्य पर चिंतन करती है। ईश्वर का शरीरधारण मनुष्यों के प्रति उनकी कोमलता का चिन्ह है जो बालक येसु में प्रकट हुआ है।

संत पापा ने 2 जनवरी को एक ट्वीट प्रेषित कर विश्वासियों को बालक येसु पर चिंतन करने हेतु प्रोत्साहन देते हुए कहा, "चरनी के सादेपन में हम ईश्वर की कोमलता को पहचाने एवं उस पर चिंतन करें जिन्होंने अपने को बालक येसु में प्रकट किया।"

संत पापा ने 1 जनवरी विश्व शांति दिवस के लिए भी एक संदेश प्रेषित कर शांति को बढ़ाने का प्रोत्साहन दिया। उन्होंने ट्वीट में लिखा, "हम शांति के बीज को पोषित करें ताकि वह बढ़ सके तथा हमारे शहरों को शांति की कार्यशाला के रूप में बदल दे।" 


(Usha Tirkey)

02/01/2018 15:12