Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

विश्व की घटनायें \ विश्व

मिस्र में कॉप्टिक ख्रीस्तीयों पर हुए हमले में 12 लोग मारे गए

कॉप्टक गिरजाघर में जमा हुए मृतकों के संबंधी - AP

30/12/2017 14:49

कैरो, शनिवार 30 दिसम्बर 2017 (फीदेस) : मिस्र में शुक्रवार 29 दिसम्बर को कॉप्टिक ख्रीस्तीयों पर दो हमले हुए जिसमें 12 लोगों की जानें चली गई। अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण कैरो के एक गिरजाधर में बंदूकधारियों ने अंधाधूँध गोलियाँ चलाईं जिसमें 10 लोगों की मौत हुई, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक लिया। इस दरम्यान 2 पुलिस भी मारे गये।

शुक्रवार को हुए हमले में मार मीना के कॉप्टिक गिरजाघर के बाहर अज्ञात बंदूकधारियों ने गोलियां चलाई।

एक गवाह ने कहा कि जब गोलीबारी शुरू हुई तो लोगों ने गिरजाघऱ के अंदर का फाटक बंद कर दिया फिर भी गोलीबारी से बुलेट इमारत में प्रवेश कर रहे थे।

इस घटना के एक धंटे बाद उसी क्षेत्र में कॉप्टिक खीस्तीय की दुकान में भी हमला हुआ जिसमें दो लोगों की मौत हुई।

मिस्र के धर्माध्यक्ष अन्तोनियोस मीना ने तुरंत इस हमले की निंदा की और कड़े तरीके से अपनी राय व्यक्त की, "मृत जोखिम केवल संख्याओं में बृद्धि के रूप में देखा जा रहा है।"

गूइजा के एमेरिटुस कॉप्ट धर्माध्यक्ष अनबा अन्तोनियोस मीना ने फीदेस न्यूस एजेंसी से कहा, "जोखिम यह है कि लोगों के दिल पत्थर के समान कड़ा बनता जा रहा है वे अब हमला के बारे में सुनने के आदी होत् जा रहे हैं और वे मरने वालों की संख्या के पीछे उनके जीवन को नहीं सोचते हैं।” 

मिस्र के अल्पसंख्यक ख्रीस्तीयों पर इस्लाम चरमपंथियों द्वारा लगातार हमले होते आ रहे हैं दिसम्बर 2016 से 100 से भी ज्यादो लोगों की मौत हुई थी और अनेकों घायल हुए थे।

तथाकथित इस्लामी राज्य समूह के स्थानीय सहयोगियों द्वारा पवित्र खजूर रविवार को दो कॉप्टिक ख्रीस्तीय गिरजाघरों में आत्मघाती बम विस्फोटों के हमले के बाद से अप्रैल से देश में आपातकाल स्थिति रही है।

मिस्र के सुरक्षा बलों ने हमलों के जवाब में राजधानी के आसपास सुरक्षा चौकियों को रखा है। उन्होंने नए साल और कॉप्टिक क्रिसमस के उत्सवों की रक्षा के लिए इस हफ्ते की योजना की घोषणा की थी।


(Margaret Sumita Minj)

30/12/2017 14:49