Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

वाटिकन \ घटनायें

कार्डिनल सोदानो के 90वेँ जन्म दिवस पर संत पापा की शुभकामनाएँ

कार्डिनल अंजेलो सोदानो संत पापा के साथ - REUTERS

07/12/2017 16:11

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 7 दिसम्बर 2017 (रेई): कार्डिनल मंडल के डीन एवं वाटिकन के पूर्व राज्य सचिव कार्डिनल अंजेलो सोदानो के 90वेँ जन्म दिवस पर संत पापा फ्राँसिस ने वाटिकन स्थित पौलिन प्रार्थनालय में ख्रीस्तयाग अर्पित किया एवं ख्रीस्तयाग के उपरांत उन्हें शुभकामनाएँ अर्पित कीं।

कार्डिनल अंजेलो रफाएल सोदानो ने 2005 से कार्डिनल मंडल के डीन के रूप में एवं संत पापा जोन पौल द्वितीय तथा संत पापा बेनेडिक्ट 16वें के समय में 1991 से 2006 तक वाटिकन राज्य सचिव के रूप में अपनी सेवाएँ अर्पित की हैं।

संत पापा ने कहा, "ईश्वर ने हमारे जीवन में जो कुछ किया है उसके लिए हम प्रत्येक दिन ईश्वर को धन्यवाद देते हैं किन्तु जब 25 या 50 जैसे खास वर्षगाँठ आते हैं तब धन्यवाद की भावना प्रगाढ़ हो जाती है। इस पुनरावृत्ति में हमारी बीती यात्रा की याद मजबूत होती और यही याद हमें एक उपहार भेंट करने हेतु प्रेरित करती है।"  

संत पापा ने कहा, "स्मृति जीवन का पहलू है। ईश्वर ने हमारे लिए जो कुछ किया है उसकी स्मृति खो देना दुर्भाग्य है। विवि विवरण ग्रंथ में ईश्वर कहते हैं, इस्राएल याद रखो।"

संत पापा ने कार्डिनल सोदानो की ओर इंगित कर कहा कि उन्होंने इन वर्षों को याद कर रखा है क्योंकि जब कभी हम पिछले दिनों की याद करते हैं हम अपने को कृपाओं के सामने पाते हैं। हम अपनी नग्नता, गलतियों और पापों की भी याद करते जिनके लिए संत पौलुस गर्व करते थे क्योंकि हम सब कमजोर हैं और इन बातों की याद हमें आगे बढ़ने का बल प्रदान करती है यही स्मृति की कृपा है। उन्होंने कहा कि कार्डिनल ने साक्ष्य के जीवन द्वारा हमें उपहार दिया है जो हमारे लिए प्रेरणा है। 

संत पापा ने हमारे जीवन में प्रभु के कार्यों पर ध्यान आकृष्ट करते हुए कहा, "हर जीवन भिन्न है। हम सभी का अपना अनुभव है। प्रभु हम सभी को अलग-अलग रास्तों पर ले चलते हैं किन्तु वे सदा हमारा हाथ पकड़कर हमें आगे बढ़ाते हैं और यही कृपा है जिसको हमने प्राप्त किया है जिसके बदले हम अपने जीवन का साक्ष्य प्रस्तुत करते हैं। येसु हमारे सच्चे साक्ष्य को जानते हैं उस साक्ष्य एवं भले कार्य को भी जो लोगों की नजरों से छिपा हुआ है।  

संत पापा ने कहा कि कार्डिनल एक साक्ष्य के व्यक्ति हैं जिन्होंने कलीसिया के लिए बहुत कुछ किया है तथा विषम परिस्थितियों को आनन्द एवं आँसू के साथ पार किया है। कलीसिया को दिए इस साक्ष्य से भी बढ़कर है उनका अनुशासित व्यक्ति के रूप में दिया गया साक्ष्य। संत पापा ने उनके आदर्श जीवन के लिए उन्हें धन्यवाद दिया तथा कामना की कि उनका यह उदाहरण हमें जीवन में आगे बढ़ने हेतु प्रेरणा प्रदान करता रहे।

कार्डिनल अंजेलो सोदानो का जन्म 23 नवम्बर 1927 को इटली में हुआ था। 23 सितम्बर 1950 को उनका पुरोहिताभिषेक हुआ था। उन्होंने 1959 में परमधर्मपीठ की राजनयिक इकाई में प्रवेश किया तथा कई विभागों में काम किया। 


(Usha Tirkey)

07/12/2017 16:11