Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

संत पापा फ्राँसिस \ प्रेरितिक यात्रा

धर्माध्यक्षों ने चक्रवात के शिकार लोगों के लिए मदद की अपील की

चक्रवात के कारण समुद्री लहरों से घिरे लोग - AP

05/12/2017 15:05

नई दिल्ली, मंगलवार, 5 दिसम्बर 2017 (ऊकान): भारत के काथलिक धर्माध्यक्षों ने देश के सभी लोगों से आग्रह किया है कि वे दक्षिण भारत के तटीय इलाक़ों में चक्रवात के कारण पीड़ित लोगों के लिए प्रार्थना करें एवं उनकी सहायता करें।

केरल, तमिलनाडु तथा लक्षद्वीप पर 1 और 2 दिसम्बर को आये ओखी चक्रवात से पीड़ित लोगों के लिए धर्माध्यक्षों ने अपनी प्रार्थनाओं का आश्वासन दिया।

उन्होंने मृत्यु के शिकार लोगों के परिवारों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना प्रकट की तथा चक्रवात से पीड़ित लोगों को सांत्वना दिया।

मीडिया रिपोर्ट अनुसार इस चक्रवात से कम से कम 32 लोगों की मौत हुई है जबकि 200 से अधिक लोग लापता हैं जो तमिलनाडु और केरल के कथित काथलिक मछुआरे हैं।

चक्रवात में 560 से भी अधिक घर पूरी तरह ध्वस्त हो चुके हैं और 1500 घर ऐसे हैं जिनके कुछ हिस्से क्षतिग्रस्त हो गये हैं। लगभग 10,000 लोगों को घर छोड़ना पड़ा है।

काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के महासचिव धर्माध्यक्ष थेओदोर मसकरेनहास ने कहा कि अधिकारियों के साथ मिलकर काथलिक उदारता संगठन करीतास इंडिया उन्हें राहत सेवा पहुँचाने का काम कर रहा है।

उन्होंने कहा, "दु:ख, क्षति और पीड़ा के इस समय में, भारत की काथलिक कलीसिया प्रभावित परिवारों के करीब है।" उन्होंने काथलिकों से अपील की कि वे अपने पल्लियों एवं धर्मप्रांतों के माध्यम से उन लोगों को आर्थिक मदद पहुँचायें।

भारतीय काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष कार्डिनल बेसलियस क्लेमीस ने काथलिकों से 10 दिसंबर को विशेष प्रार्थना करने और आर्थिक सहायता देने का आग्रह भी किया है।


(Usha Tirkey)

05/12/2017 15:05