Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ भारत की कलीसिया

हिंदू कट्टरपंथी हमें समाप्त करना चाहते हैं हमारी सहायता करें", सागर के धर्माध्यक्ष

गुड फ्राईडे क्रूस यात्रा में भाग लेते भारतीय ख्रीस्तीय, 14.04.2017 (प्रतीकात्मक तस्वीर) - EPA

17/11/2017 11:27

सागर, म.प्र., शुक्रवार, 17 नवम्बर 2017 (रेई,वाटिकन रेडियो): मध्यप्रदेश स्थित सागर के काथलिक धर्माध्यक्ष एन्थोनी चिरायत ने उनके धर्मप्रान्त में ख्रीस्तीय धर्मानुयायियों के विरुद्ध शत्रुता की शिकायत करते हुए हिन्दू चरमपंथी संगठनों पर उत्पीड़न का आरेप लगाया है।

एशिया न्यूज़ से बातचीत में सागर के धर्माध्यक्ष चिरायत ने कहा, "हिन्दू चरमपंथी ख्रीस्तीयों के उन्मूलन का प्रयास कर रहे हैं तथा ख्रीस्तीयों पर धर्मान्तरण का आरोप लगा रहे हैं, जो सरासर झूठा आरोप है।"     

उन्होंने कहा, "राष्ट्रवादी एवं चरमपंथी अखबारों और टेलीविजन चैनलों के माध्यम से तथा झूठी खबरों को फैलाकर हमारे खिलाफ शत्रुतापूर्ण माहौल पैदा कर रहे हैं।  उनका लक्ष्य ईसाइयों के बीच और उन सभी लोगों के बीच भय पैदा करना है, जो गिरजाघरों में जाते हैं अथवा पुरोहितों एवं ख्रीस्तीयों से सम्बन्ध रखते हैं।

एशियान्यूज़ के माध्यम से सहायता की अपील करते हुए धर्माध्यक्ष चिरायत ने कहा, "हम भयभीत हैं, हम पर कभी भीहमला हो सकता है। हमारे स्कूलों, हमारी संस्थाओं एवं हमारे अनाथ आश्रमों को क्षति पहुँचाई जा सकती है, कृपया हमारी मदद करें।" धर्माध्यक्ष चिरायत ने बताया कि सितम्बर माह में कलीसिया द्वारा संचालित मोहनपुर काथलिक कॉलेज के बन्द कराये जाने के बाद से हमलों का सिलसिला जारी है।

मोहनपुर कॉलेज की स्थापना सन् 1997 में हुई थी। यह कॉलेज निर्धन आदिवासी बच्चों एवं किशोरों को निशुल्क भोजन, आवास एवं शिक्षा मुहैया कराता है। सितम्बर माह में गुना ज़िले के नागर अधिकारियों के आदेश पर इसे बन्द कर दिया गया क्योंकि हिन्दू चरमपंथियों ने धर्मान्तरण की झूठी शिकायत की थी। उन्होंने बताया कि अर्द्धरात्रि के बीच चार ट्रकों पर सवार हिन्दू चरमपंथी कॉलेज पहुँचे जहाँ उन्होंने बच्चों एवं उनकी देखभाल करनेवाली धर्मबहनों और पुरोहितों को डराया धमकाया तथा कॉलेज खाली कर दिया।

धर्माध्यक्ष चिरायत ने हिन्दू चरमपंथियों के हमले से बचने के लिये प्रशासन एवं सभी शुभचिन्तकों से सहायता की अपील की है।

सागर धर्मप्रान्त के मोहनपुर गाँव में लगभग 225 आदिवासी परिवास निवास करते हैं। इनमें पाँच परिवार काथलिक धर्मानुयायी हैं।


(Juliet Genevive Christopher)

17/11/2017 11:27