Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ विश्व की कलीसिया

अपारेचिदा की माता मरियम की जयन्ती पर संत पापा का विडियो संदेश

अपारेचिदा के तीर्थस्थल पर संत पापा फ्राँसिस एक कार्डिनल के रूप में - RV

12/10/2017 17:28

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 12 अक्टूबर 2017 (रेई): संत पापा फ्राँसिस ने ब्राजील के लोगों को एक विडीयो संदेश भेजकर अपारेचिदा की माता मरियम के नदी से पाये जाने की 300वीं जयन्ती पर शुभकामनाएं दी तथा कहा कि ब्राजील को आज ऐसे पुरूष और स्त्री की आवश्यकता है जो आशा और विश्वास से पूर्ण हों तथा ऐसे व्यक्ति की जो यह साक्ष्य दे सके कि प्रेम एकात्मता में प्रकट होता है तथा स्वार्थ एवं भ्रष्टाचार से अधिक बलवान है।

उन्होंने कहा, ″मेरा अभिवादन एवं मेरा आशीर्वाद उन सभी लोगों के लिए है जो येसु ख्रीस्त में जीते हुए अपारेचिदा की माता मरियम की प्रतिमा को प्राप्त करने की 300वीं जयन्ती मना रहे हैं जिन्हें पाराइबा दो सुल नदी के जल में पाया गया था।″

अपने विडीयो संदेश में संत पापा ने कहा कि सन 1717 में एक मछवारे ने प्रतिमा को पानी से निकाला था जो उन्हें ईश्वर पर भरोसा रखने हेतु प्रेरित किया था और उसने बहुत अधिक मछलियाँ पकड़ी थी। ईश्वर हमें सदा विस्मित करते हैं। संत पापा ने याद किया कि अपारेचिदा हमें तीन चीजें सिखाती हैं, ″आशा, ईश्वर का विस्मय एवं आनन्द।″   

संत पापा ने 2013 में अपनी प्रथम प्रेरितिक यात्रा की याद की जिसमें उन्होंने अपारेचिदा के तीर्थस्थल का दौरा किया था।

संत पापा ने कहा, ″निराशा से बाहर निकलें, ईश्वर पर भरोसा रखें तथा अपारेचिदा की माता मरियम की मध्यस्थता पर विश्वास करें।″

संत पापा ने निमंत्रण दिया कि हम आनन्द लायें ताकि सभी के पास पहुँच सकें। उन्होंने कहा कि माता मरियम की प्रतिमा सभी के लिए मुस्कान का स्रोत है अतः एक ख्रीस्तीय कभी निराशावादी नहीं हो सकता।


(Usha Tirkey)

12/10/2017 17:28