Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

महत्त्वपूर्ण लेख \ विज्ञान पर्यावरण

ईश्वर की सृष्टि के रक्षक बनें, कार्डिनल ग्रेसियस

ख्रीस्तयाग अर्पित करते कार्डिनल ग्रेसियस - RV

04/09/2017 15:14

भारत, सोमवार, 4 सितम्बर 2017 (वीआर अंग्रजी): सृष्टि की देखभाल हेतु विश्व प्रार्थना दिवस के उपलक्ष्य में दिये अपने संदेश में कार्डिनल ओस्वाल्ड ग्रेसियस ने सभी विश्वासियों का अह्वान किया है कि वे ईश्वर की सृष्टि की रक्षा हेतु उनकी सहायता की याचना करें।

सृष्टि की देखभाल हेतु विश्व प्रार्थना दिवस 1 सितम्बर को मनाया गया जिसका तीसरे साल में एक खास महत्व था।

एशियाई धर्माध्यक्षीय संघ के अध्यक्ष एवं मुम्बाई के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल ग्रेसियस ने उस दिन को प्रार्थना दिवस के रूप में मनाने की सलाह दी थी ताकि हम ईश्वर की सृष्टि के रक्षक होने की अपनी बुलाहट के प्रति जागरूक हो सकें।

संत पापा के प्रेरितिक पत्र ″लौदातो सी″ का हवाला देते हुए कार्डिनल ने कहा था कि संत पापा फ्राँसिस हमें स्मरण दिलाते हैं कि ″पारिस्थितिकी संकट हमें एक गहन आध्यात्मिक चिंतन के लिए निमंत्रण दे रही है कि ख्रीस्तीय पर्यावरण से बातचीत करने हेतु बुलाये जाते हैं जहाँ येसु ख्रीस्त के साथ उनके मुलाकात का प्रभाव, विश्व में सृष्टि के साथ उनके संबंध में स्पष्ट दिखाई पड़े।″  

उन्होंने कहा, ″प्रार्थना एवं पवित्र संस्कारों में हम ख्रीस्त से मुलाकात करते हैं जो हमें हर कठिनाईयों एवं चुनौतियों का सामना करने का बल प्रदान करते हैं। जलवायु परिवर्तन और वैश्विक तापमान में वृद्धि के वर्तमान पारिस्थितिक संकट के बीच हम अपनी आस्था प्रभु पर बनायें रखें जो सभी चीजों को नया बना देते हैं। (प्रका. 21:5) हम प्रार्थना के माध्यम से ही ईश्वर से कृपा एवं सहायता की याचना करते हैं।

1 सितम्बर जो कि प्रथम शुक्रवार भी था कार्डिनल ने सभी विश्वासियों को पवित्र घड़ी में सहभागी होने हेतु निमंत्रण दिया था कि वे एक परिवार की तरह, ईश्वर को सृष्टिकर्ता के रूप में उनके प्रचुर कृपादानों के लिए उन्हें धन्यवाद दें।  

सृष्टि की रक्षा हेतु विश्व प्रार्थना दिवस की स्थापना संत पापा फ्राँसिस ने 2015 में की थी तथा ऑर्थोडोक्स कलीसिया में इस दिन को सन् 1989 ई. से ही मनाया जा रहा है। 


(Usha Tirkey)

04/09/2017 15:14