Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

विश्व की घटनायें \ विश्व

शरणार्थियों के प्रति और अधिक संवेदनशीलता की जरूरत

उप–सहारा प्रान्तों में प्रवासी - AP

25/08/2017 16:22

वाटिकन रेडियो, शुक्रवार, 25 अगस्त 2017 (वीआर) यूरोप को शरणार्थियों के प्रति और अधिक संवेदनशील होने की जरूरत है, उक्त बातें तांगेर, मोरक्को के महाधर्माध्यक्ष सैंटियागो अगरेलो ने कही।
वर्तमान परिस्थिति में उप–सहारा के प्रान्तों में प्रवासियों की स्थिति और उनके प्रति जागरूकता को लेकर उन्होंने कहा कि लोगों को “सीमा रेखा से बाहर रखना” समस्याओं का समाधान नहीं है। उन्होंने कहा, “मरुस्थल में कितने ही लोग मर रहे हैं जिनके बारे में कोई बातें नहीं करता है। यूरोप को पता है कि क्या हो रहा है लेकिन वह अप्रभावित-सा जान पड़ता है।”

प्रवासियों और शरणार्थियों द्वारा झेल रहे कठिनाइयों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें भोजन और निवास की कमी है यूरोप के लोग ऐसी परिस्थिति से नहीं गुजरे हैं अतः उन्होंने इस अभाव का पता नहीं चलता है।
शरणार्थियों द्वारा प्रवासी नियमों के उल्लंघन के बारे में उन्होंने कहा कि हममें से प्रत्येक को दुनिया के किसी भी स्थान में रहने का अधिकार है जो हमें अच्छा लगता है। यह हमारा मौलिक अधिकार है जिसे सभी राष्ट्र स्वीकार सकते हैं लेकिन इस अधिकार का हनन होता रहा है। उन्होंने कहा कि इस संदर्भ में हमें प्रथम चरण में प्रवासियों को इस अधिकार के प्रति शरणार्थियों को जागरूक करने की आवश्यकता है जिससे इसका निपटारा किया जा सके।

उन्होंने राजनायिकों से आग्रह किया कि वे लोगों की समस्याओं को अनदेखा किये बिना इस संकट के समाधान हेतु ठोस कदम उठायें।
 


(Dilip Sanjay Ekka)

25/08/2017 16:22