Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ भारत की कलीसिया

असम और बिहार में कारीतास द्वारा बाढ़ पीड़ितों की मदद

बाढ़ पीड़ितों की मदद करता कारीतास - RV

22/08/2017 15:41

मुम्बई, मंगलवार, 22 अगस्त 2017 (एशियान्यूज़): काथलिक उदारता संगठन कारितास की भारतीय शाखा कारितास इंडिया के महानिदेशक फा. डीसूजा ने कहा कि कारीतास इंडिया असम एवं उत्तर पूर्व में राहत पहुँचाने में सबसे आगे है।

दक्षिण एशिया के कई क्षेत्रों में हाल में आये बाढ़ के मद्देनजर एशिया न्यूज़ से बातें करते हुए उन्होंने कहा कि काथलिक कलीसिया की मुख्य उदार संगठन ने 50 मिलियन रूपया अनुदान किया है और अब भी वह उनके लिए भोजन, दवाई तथा टेंट की आपूर्ति करा रहा है। स्वयंसेवक मेडिकल शिविरों का आयोजन कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ″हम तीन जिलों के दूर-दराज इलाकों में पहुँचने का प्रयास कर रहे हैं। 

भारत में कई सप्ताहों तक लगातार भारी वर्षा ने भयंकर बाढ़ की स्थिति उत्पन्न कर दिया है। उत्तर पूर्वी क्षेत्र इस बाढ़ से सबसे अधिक प्रभावित है, खासकर, बिहार और असम।

बिहार में करीतास ने कुल 20 मिलियन रूपया अनुदान किया है किन्तु कारीतास निदेशक ने कहा, ″हमारा लक्ष्य है कुल मिलाकर 50 मिलियन रूपया अनुदान प्रदान करना तथा अधिक से अधिक लोगों की सहायता करना क्योंकि बाढ़ की स्थिति बिहार में विनाशकारी है।

कारीतास निदेशक ने गौर किया कि सभी प्रकार के लोगों की मदद करते हुए कारीतास ने एक अद्वितीय कार्य किया है। उनका मुख्य उद्देश्य है सभी लोगों को मानवीय सहायता पहुँचाना।

उत्तर प्रदेश का लखनाऊ धर्मप्रांत भी बाढ़ पीड़ितों की मदद कर रहा है। स्थानीय धर्माध्यक्ष जेराल्ड मथियस ने कहा कि धर्मप्रांतीय प्रशासन पूरी तरह बाढ़ पीड़ितों की मदद में लगा है।

धर्माध्यक्ष ने मुज़ाफ्फरनगर में रेल दुर्घटना के शिकार लोगों के परिवार वालों को अपनी संवेदना प्रकट की जिसमें 23 लोगों की मौत हो गयी थी।

उन्होंने कहा, ″ईश्वर मृतकों को अनन्त शांति दे तथा घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करे।″


(Usha Tirkey)

22/08/2017 15:41