Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ विश्व की कलीसिया

स्पेन में हिंसक हमले का भारतीय धर्माध्यक्षों ने की निंदा

दलाई लामा के साथ वासाई के महाधर्माध्यक्ष फेलिक्स अंतोनी मचादो - RV

19/08/2017 15:36

मुम्बई, शनिवार, 19 अगस्त 2017 (एशियान्यूज़): ″आतंकवादी हमले केवल लोगों में आतंक फैलाते और शांति को दूर कर देते हैं।″ उक्त बात वासाई के महाधर्माध्यक्ष फेलिक्स अंतोनी मचादो ने स्पेन के बर्सिलोना में हुए हमले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही।

एशियान्यूज़ से बातें करते हुए उन्होंने यूरोप में इस्लामिक स्टेट द्वारा किये गये फिलहाल की हिंसक घटना की कड़ी निंदा की। उन्होंने स्पेन के लोगों की याद की जो सौहार्दपूर्ण हैं तथा जिनसे उनकी मुलाकात कई अवसरों पर हो चुकी हैं।

उन्होंने कहा, ″यह एक ऐसी जनता है जो सभी धर्मों के प्रति बड़े सम्मान की भावना रखी है। ईश्वर शांति प्रदान करे। हमें आशा नहीं खोना चाहिए। हमें साहस नहीं छोड़ना चाहिए। हमें ईश्वर की शांति को ग्रहण करते रहने एवं उसे पृथ्वी पर स्थापित करने से नहीं रूकना चाहिए।″

एशियाई काथलिक धर्माध्यक्षीय संघ में अंतरधार्मिक वार्ता एवं ख्रीस्तीय एकता वर्धक वार्ता के अध्यक्ष धर्माध्यक्ष मचादो ने अपील की कि, ″सभी धर्मों के नेता एकजुट होकर समाज में शांति निर्माण हेतु कार्य करें। ऐसा लगता है कि मानव ने आनन्द पूर्वक जीवन जीने का सपना ही छोड़ दिया है।″

उन्होंने कहा कि वार्ता हेतु एक माहौल तैयार किया जाए जो चरमपंथी विचारधाराओं को दूर करने में मदद देगा। उन्होंने स्वीकार किया कि राजनीतिक एवं कलीसियाई नेताओं ने इस तरह की परिस्थितियों का सामना करने के लिए पर्याप्त काम नहीं किया है।     

महाधर्माध्यक्ष ने शांति प्रयासों के महत्व को रेखांकित करते हुए ″विश्व शांति एवं सौहार्द सम्मेलन,″ जैसे आयोजनों को प्रोत्साहन दिया जो मुम्बई में 13 अगस्त को सम्पन्न हुए और जिसमें उन्होंने भाग लिया था। सभा एक स्थानीय सौहार्द संगठन ‘अहिंसा विश्व भारती’ के तत्वधान में आयोजित की गयी थी जिसमें करीब सभी धर्मों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया था।

बीबीसी के अनुसार स्पेन के बार्सिलोना शहर में शुक्रवार को हुए आतंकी हमले में कुल 13 लोगों की मौत हो चुकी है और  100 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है। इस हमले की चपेट में 18 देशों के नागरिक आए हैं। स्पेन के स्थानीय समय के मुताबिक, ये हमला शाम चार बजकर पचास मिनट (14:50 जीएमटी) पर हुआ।


(Usha Tirkey)

19/08/2017 15:36