Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

विश्व की घटनायें \ विश्व

कांगो – कसाई सशस्त्र संघर्ष के कारण पीड़ितों की संख्या में वृद्धि

लोकतांत्रिक गणराज्य कांगो के राष्ट्रपति प्रार्थना करते हुए - AFP

05/08/2017 16:12

लूएबो, शनिवार 5 अगस्त 2017 (फीदेस) : लोकतांत्रिक गणराज्य कांगो के कसाई प्रांत में विगत दो महीनों में सशस्त्र संघर्ष में 140 से ज्यादा बच्चों की मौत हुई। सशस्त्र सैनिकों के द्वारा 500 से भी ज्यादा नाबालिगों का इस्तेमाल मानव ढाल के रूप में किया जा रहा है। ओएनजी वर्ल्ड विजन द्वारा फीदेस एजेंसी को भेजे गये एक बयान में कहा गया कि लोकतांत्रिक गणराज्य कांगो के विभिन्न प्रांतों में हिंसा के कारण 3000 लोगों की मौत हुई और 1 करोड़ 4 लाख लोग अपने घरों को छोड़ दिये हैं। जिसमें कसाई सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है।

बचपन बहुत ही नाजुक स्थिति होती है। मानव अधिकार संगठन बाल सैनिकों के उपयोग की निंदा करते हैं।

क्षेत्रफल को देखते हुए यह देश अफ्रीका महाद्वीप का तीसरा सबसे बड़ा देश है। कांगो के पूर्वी सीमा क्षेत्र बहुमूल्य खनिजों के कारण दो दशकों से लगातार वहाँ के निवासियों और विद्रोहियों के बीच युद्ध जारी है। कसाई प्रांत में अक्टूबर 2014 से नरसंहार की एक श्रृंखला शुरू हुई थी जिसमें अज्ञात हमलावर बहुत से लोगों को बंधक बना कर अपने साथ ले गये और सैकड़ों नागरिकों को मार डाला था।


(Margaret Sumita Minj)

05/08/2017 16:12