Social:

RSS:

रेडियो वाटिकन

विश्व के साथ संवाद करती संत पापा एवं कलीसिया की आवाज़

अन्य भाषाओं:

कलीसिया \ भारत की कलीसिया

अपहृत पुरोहित के रिश्तेदारों ने केरल राज्यपाल से की हस्तक्षेप की अपील

यमन में अपहृत एवं लापता काथलिक पुरोहित फादर टॉम ऊझुन्नालिल - RV

02/06/2017 12:09

तिरूवनन्तपुरम, शुक्रवार, 2 जून 2017 (ऊका समाचार): यमन में अपहृत और लापता काथलिक पुरोहित फादर टॉम ऊझुन्नालिल के रिश्तेदारों ने केरल के राज्यपाल पी. सत्यसिवम से मुलाकात कर उनसे फादर की रिहाई हेतु हस्तक्षेप की अपील की है।

04 मार्च 2016 को, संदिग्ध इस्लामिक चरमपंथियों ने, यमन में, फादर टॉम का अपहरण कर लिया था।

पूर्व मुख्यमंत्री ओमान चण्डी के नेतृत्व में फादर टॉम के रिश्तेदारों ने राज्यपाल सत्यसिवम से मुलाकात की थी।

टाईम्स ऑफ इन्डिया समाचार का हवाला देकर ऊका समाचार ने बताया कि उक्त मुलाकात के बाद राज्यपाल ने रिश्तेदारों की याचिका को केन्द्रीय विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज के सिपुर्द करते हुए उनसे लापता पुरोहित की खोज को सघन करने का आग्रह किया था।

राज्यपाल के पत्र के जवाब में श्रीमती स्वराज ने ट्विटर पर कहा, "हम कोई भी प्रयास करने से नहीं चूक रहे हैं।"

मदर तेरेसा के मिशनरीज़ ऑफ चैरिटी द्वारा संचालित स्वास्थ्य आश्रम पर आतंकवादियों के हमले के उपरान्त फादर टॉम लापता हो गये थे।  

आतंकवादी हमले के बाद फादर टॉम के कई विडियो सन्देश प्रकाश में आये थे जिनमें उन्होंने अपने जीवन की रक्षा हेतु सहायता का आग्रह किया था। कुछ सप्ताह पूर्व जारी वीडियो में उन्होंने कहा था कि स्थिति संकटपूर्ण हो चुकी थी तथा केवल केंद्र सरकार के सक्रिय हस्तक्षेप के जरिए ही उनका बचाव हो सकता था।

मुख्य मंत्री पीनाराई विजयन ने 25 मई को विधान सभा में कहा था कि वे इस मुद्दे को प्रधान मंत्री मोदी के पास ले जायेंगे।

इस बात की ओर मुख्य मंत्री ने ध्यान आकर्षित कराया कि केरल राज्य ने 25 अप्रैल 2016 तथा 27 फरवरी 2017 को केन्द्र से सहायता की अपील की थी किन्तु उन्हें कोई जवाब नहीं मिला था। मुख्य मंत्री ने इस वर्ष 14 मार्च को प्रधान मंत्री को भी एक पत्र लिखा था।


(Juliet Genevive Christopher)

02/06/2017 12:09